पटना में लगेगी हीरा तराशने की फैक्टरी

पाटलिपुत्र स्थित इंडस्ट्रियल एरिया में हीरा तराशा जायेगा. एक हजार से लेकर एक करोड़ रुपये तक के हीरे बिहारी कारगीरों के हाथों तैयार किये जायेंगे. अंतरराष्ट्रीय हीरा कंपनी श्रेनुज ने पटना में हीरा तराशने का कारखाना लगाने का निर्णय किया है. नवंबर में इसका निर्माण कार्य शुरू हो जायेगा. राज्य सरकार ने श्रेनुज कंपनी के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है. बियाडा की ओर से पाटलिपुत्र इंडस्ट्रीयल एरिया में 19 हजार वर्ग फुट व 9 हजार वर्ग फुट के दो प्लॉट एलॉट किये गये हैं.

1400 लोगों को मिलेगा रोजगार

श्रेनुज कंपनी के प्रबंध निदेशक प्रणव ने बताया कि हीरा तराशने के काम में बिहार के प्रशिक्षित 1400 कारीगरों को सीधा रोजगार मिलेगा. अप्रत्यक्ष रूप से 5000 हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिलने की संभावना है. उन्होंने कहा कि बिहार के कारगीर हीरा तराशने में बेहद कुशल है. वे हीरा जैसे कीमती पत्थर की अहमियत समझते है.

106 वर्ष पुरानी कंपनी

प्रणव ने कहा कि बिहार में कानून व्यवस्था की स्थिति बेहतर हुई है. यही कारण है कि हीरा उद्योग से जुड़ी 106 वर्ष पुरानी श्रेनुज कंपनी की ओर से बिहार में निवेश करने का निर्णय किया गया है. बिहार के ही कारीगर गुजरात में काम करते हैं, उन्हें अपने घर में ही रोजगार मिलेगा तो वे और बेहतर प्रदर्शन करेंगे. उनके अनुसार कंपनी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज व बांबे स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध है. 15 देशों में 20 सेंटरों के माध्यम से कंपनी कारोबार कर रही है. भारत में सूरत, मुंबई व साउथ अफ्रीका व बोत्सवाना में हीरा कटिंग का कारखाना स्थापित किया गया है. बिहार में दो चरणों में कारखाना स्थापित होगा.

1 Comment

  1. very good and positive news for bihar and bihari people
    thanks mr.parau.

Leave a Reply

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>